Fashion Tips and Tricks | by Swapnil Shukla ~ Vol -04 , Year 2016 , Part – 2nd

SWAPNIL   SAUNDARYA  e-zine
Presents
Fashion Tips and Tricks
Vol -04 , Year 2016 , Part – 2nd

 New Innovations and Trends in Fashion | by Swapnil Shukla

फ़ैशन के नव आविष्कार व ट्रेंड्स

अगर कोई आभूषण सौंदर्य में इज़ाफा करने के साथ आपके स्वास्थ  का भी ख्याल रखे तो ऐसे आभूषणों के प्रति आपका आकर्षित होना लाज़मी है. आभूषणों की दुनिया के सबसे नव आविष्कार के रुप में आज बाज़ार में बायो मैग्नेटिक आभूषण तेजी से अपनी जगह बना रहे हैं. वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति में चुम्बकों का  प्रयोग सदियों से होता आ रहा  है.प्राचीन समय में युनानी लोग चुम्बक दिमाग में लगाकर सिरदर्द ठीक किया करते थे . इसके अलावा किसी अंग के  माँस या मसल्स की सूजन को कम करने के लिए भी उस पर चुम्बक रख कर इलाज किया जाता था. वर्तमान समय में भी कई जगहों पर इस पद्धति के प्रयोग द्वारा जोड़ों के दर्द, गठिया आदि का इलाज किया जा रहा है. इसके  लिए चुम्बकीय पेंडेंट ,चुम्बकीय ब्रेसलेट ,नेकलेस, फुटवियर आदि का उपयोग हो रहा है, जिसे बायो -मैग्नेटिक अर्थात चुम्बकीय ज्वेलरी कहते हैं. इसके माध्यम से अदृश्य चुम्बकीय रेखाएं परोक्ष रुप से हमारे शरीर पर पॉज़िटिव प्रभाव डालती हैं. चुम्बकीय गुणों से युक्त ये गहने अनिद्रा, कब्ज, सिरदर्द ,गठिया , पीठ दर्द जैसी समस्याओं में राहत देने के साथ साथ  आपके व्यक्तित्व में भी चार चाँद लगाते हैं.यह आभूषण कॉलेज गोइंग युवतियों  से लेकर कामकाजी महिलाओं के बीच आकर्षण का केंद्र बने हैं.  बाज़ार में बिकने वाले अधिकतर आर्टिफीशियल आभूषणों में लेड और नुकसानदायक पेंट होते हैं,जो त्वचा में एलर्जी का कारण बनते हैं परंतु बायो- मैग्नेटिक आभूषणों में इस प्रकार के नुकसान की संभावनाएं नहीं होती हैं. वर्तमान समय में बायो मैग्नेटिक आभूषणों की इन विशेषताओं व बेहतरीन अभिकल्पों के कारण इनका क्रेज दिनों दिन बढ़्ता जा रहा है.

फ़ैशन जगत में आए दिन नए आविष्कार व एक से एक ट्रेंड्स से हमारा साक्षात्कार होता है . ऐसे में खुद को स्टाइलिश लुक देने के लिए नवीन फ़ैशन ट्रेंड्स की जानकारियों से स्वयं को अपडेट रखिये. अक्सर देखने में आता है कि महिलाओं की अपेक्षा पुरुष फ़ैशन के मामले में अधिक उलझे हुए से दिखाई देते हैं. पुरुष अपनी फैशन संबंधित उलझनों से छुट्कारा पाने हेतु अपनी वार्डरोब में कुछ खास परिधानों को शामिल कर सकते हैं.

वर्तमान समय में 90 के दशक का स्टाइल वापस आ गया है. हल्के से ऊँचे पैंट अर्थात प्लीट्स दुबारा ट्रेंड में आ गए हैं, इन्हें विंटेज स्टाइल नाम दिया गया है. अगर आप लेटेस्ट ट्रेंड को अपनाना चाहते हैं तो प्लीट्स को अपनी वार्डरोब में जरुर स्थान दें.
डेनिम का ट्रेंड भी कुछ  समय से वापस आ गया है. आप चाहें तो सफेद रंग की डेनिम जैकेट खरीदें जिसे आप अपने हर परिधान के साथ मैच कर सकते हैं. अगर आप डेनिम जींस खरीदने के बारे में विचार कर रहे हैं तो कुछ बातों का विशेष ख्याल रखें. स्टोर में उपलब्ध अलग अलग प्रकार की कट्स और ब्रांड के जींस  ट्राई करें . जींस में इस्तेमाल किए गए फैब्रिक और देश के बारे में पढ़ें. डेनिम में ऐसी जानकारी आसानी से मिल जाएंगी. वैसे यूएसए व जापान में निर्मित जींस आमतौर पर सुरक्षित माने जाते हैं. डीटेल्स पर ध्यान दें . डेनिम के वज़न को समझें. लाइट वेटेड डेनिम 340 ग्राम या उससे कम होता है , मिड वेट डेनिम 340 ग्राम से 411ग्राम का होता है और हेवी वेट डेनिम 411 ग्राम से ऊपर का होता है.

आप अपने वार्डरोब में फ्लोरल प्रिट के कपडों को भी शामिल कर सकते हैं. इसके अललावा रिप एंड रिपेयर का ट्रेंड आज भी बरकरार है. फैशन के नाम पर यह कहीं -कहीं से फेडेड और फटी हुई सी लगने वाली जींस काफी ग्लैमरस लुक देती है .

महिलाएं अपनी वार्डरोब में वर्टिकल स्ट्राइप्स प्रिंटेड परिधान , ऐसिमिट्रिक कुर्ते, हाई लो स्कर्ट्स ,सॉलिड कलर्स व वेजिस हील्स को शामिल करें.

ज़िंदगी के हर पल  का आनंद उठाएं. नवीन फ़ैशन ट्रेंड्स को अपनाएं और अपनी सुंदरता को चार चाँद लगाएं. कभी भी कोई भी सुंदर वस्तु देखने का या उसे अपनाने का अवसर मत गवाइये क्योंकि सुंदरता ईश्वर की लिखावट है. पर याद रखिए अक्सर लोग सुंदर होते हैं, दिखने में नहीं ,न ही इसमें कि वे क्या कहते हैं बल्कि इसमें जो कि वे हैं.


Bohemian Fashion and Jewels| by Swapnil Shukla

बोहेमियन फ़ैशन व ज्वेल्स

फ़ैशन जगत में आए दिन नए बदलाव देखने को मिलते हैं. फ़ैशन पंडित लोगों की जीवनशैली को आरामदायक व सौंदर्यपरक बनाने हेतु एक से बढ‌कर एक नव स्टाइल्स को बाज़ार में उतारते रहते हैं. जब बात स्टाइल की हो तब बोहेमियन शब्द की चर्चा करना अनिवार्य सा प्रतीत होता है. बोहेमियन स्टाइल है ही इतना खास ,सुगम व आपके सौंदर्य में चार चाँद लगाने वाला कि आपको यह स्टाइल अपनाते हुए कभी भी अफसोस न होगा.

बोहेमियन शब्द का इस्तेमाल एक अपारंपरिक , रुढ़ीवादी सोच से अलग, सजीव, उत्साही, जोशपूर्ण , स्वतंत्र व स्वछंद रवैये को दर्शाने हेतु किया जाता है. बोहेमियन स्टाइल जिसे बोहो स्टाइल भी कहा जाता है, के अंतर्गत नेचरल अर्थात आर्गेनिक मटैरियल्स जैसे लिनिन, कॉटन, लकड़ी, पत्थर , धागे आदि से बने कपड़े व गहनों का अधिक इस्तेमाल किया जाता है. बुनाई द्वारा तैयार की गई वस्तुएं  बोहेमियन  स्टाइल के अंतर्गत अधिक प्रचलित हैं.

लगभग 200 वर्षों से भी अधिक समय से बोहेमियन स्टाइल , एक बेहतरीन फ़ैशन विकल्प के रुप में प्रचलित है. पुराने समय में  बोहेमियन स्टाइल अधिकतर कलाकारों , चित्रकारों, लेखकों या इंटलेक्चुअल्स की पसंदीदा सूची में शामिल था. बोहेमियन स्टाइल के अंतर्गत ढीले, विभिन्न रंगों से लैस व सौंदर्यपरक आउटफिट्स शामिल हैं. हवा में लहराते बाल, लकड़ी , मोती, धागे, कपड़े , बीड्स आदि से तैयार ज्वेलरी भी  बोहेमियन  स्टाइल  का अभिन्न अंग है.

अपने व्यक्तित्व को बोहेमियन स्टाइल के अनुरुप ढालने हेतु आप पुरातात्विक अभिकल्प से लैस गहने धारण कर सकती हैं. साथ ही आप स्कर्ट , लूस बेल्ट, टी शर्ट हैट आदि धारण कर स्वयं को बोहेमियन परिवेश में ढाल सकती हैं. बोहेमियन स्टाइल की सबसे महत्वपूर्ण व रोचक बात यह है कि इस में आपको मैचिंग की फिक्र करने की आवश्यकता नहीं. अर्थी कलर्स व फैब्रिक्स धारण कर आप बोहेमियन फ़ैशन अपना सकती हैं.

बोहेमियन  स्टाइल के अंतर्गत बीड्स के मल्टी स्ट्रेंड्स, विभिन्न चूड़ियाँ व ब्रेसलेट, अपारंपरिक व हस्तनिर्मित गहने , डैंगल्स, लंबे हूप ईयररिंग्स आदि शामिल हैं. परिधानों में पैच वर्क , पेज़ली, फ्लोरल मोटिफ, काफतान, रफल्स, लेस आदि से लैस ड्रेसेज़ बोहेमियन स्टाइल को दर्शाते हैं.

बोहेमियन फ़ैशन के इतिहास पर यदि नज़र डालें तो हम पाएंगे कि प्राचीन समय में यह केवल चित्रकारों, कलाकारों, लेखकों आदि जैसे व्यवसाय से संबंधित लोगों के मध्य अधिक प्रचलित था पर वर्तमान समय में बाज़ारीकरण के दौर में अब इस फ़ैशन स्टाइल को हर कोई अपना कर अपने सौंदर्य में इज़ाफा कर सकता है.
यदि आप भी अपने व्यक्तित्व को बोहेमियन  स्टाइल के अनुरुप ढालने की इच्छुक हैं तो निम्नलिखित वार्डरोब  एसेंशियल्स को जरुर अपनाएं और  बोहेमियन  स्टाइल का लुत्फ उठाएं.

– सिंपल मैक्सी स्कर्ट : अपनी वार्डरोब में सिंपल मैक्सी स्कर्टको शामिल करें व इसे ग्राफिक टी-शर्ट व ग्लैडिएटर सैंड्ल्स के साथ धारण करें. आप वी- नेक टीशर्ट व हैट के साथ भी इसे धारण कर सकती हैं.

– न्यूट्रल रंग के एंकल बूट्स : इन्हें आप शॉर्ट स्कर्ट्स व स्किनी जींस के साथ धारण करें . जींस के साथ साथ लूज़ निटेड स्वेटर भी पहन अपने व्यक्तित्व में चार चाँद लगा सकती हैं.

– हेड रैप्स व हेयर बैण्ड्स भी बोहेमियन स्टाइल का महत्वपूर्ण अंग हैं. इनको धारण कर आप अपने व्यक्तित्व को स्टाइलिश लुक  प्रदान कर सकती हैं.

– प्रिंटेड मैक्सी ड्रेसेज़ : ज्यामितीय या प्रकृति से प्रेरित प्रिंटस से लैस मैक्सी ड्रेस आपके व्यक्तित्व को नया आयाम प्रदान कर सकती हैं.

– निटेड कार्डिगन्स व स्वेटर्स : बेल बॉट्म्स के साथ आप क्रोशिये से बने स्वेटर धारण कर अपने व्यक्तित्व को बोहेमियन स्टाइल के अनुरुप ढाल सकती हैं. यदि आप ट्यूनिक टी-शर्ट इमब्राइडरी से लैस टॉप्स को फ्लेयर्ड जींस , प्लेट्फार्म सैण्ड्ल्स के साथ धारण करती हैं तो यह निश्चित ही आपके सौंदर्य में इज़ाफा करेगा.

इसके अतिरिक्त  डेनिम वेस्ट्स को आप वीनेक टीशर्ट या मैक्सी स्कर्ट के साथ धारण कर सकती हैं . आप क्रोशिये के वेस्ट को फ्लोरल ड्रेसेज़ या फ्लेयर्ड जींस व टी- शर्ट के साथ मैच कर सकती हैं.  ओवरसाइज़्ड सनग्लासेज़ , चटख रंग की लिपस्टिक ,स्कार्फस व हिप्पी चिक पर्स के साथ आप अपने व्यक्तित्व को पूर्णतया बोहेमियन स्टाइल  में ढाल बन जाएंगी बोहो चिक.

Fashion for 40+ Women | by Swapnil Shukla

फ़ैशन फॉर 40+  विमेन 

आज के परिवेश में स्वयं की अलग पहचान बनाने के लिए अपने काम में पूर्ण दक्षता होने के साथ -साथ खुद को दूसरों के समक्ष सही तरीके से पेश करना भी अत्यंत महत्वपूर्ण है . आज के समय में अपने व्यक्तित्व को निखारने के लिए सही फ़ैशन व स्टाइल को अपनाना बहुत आवश्यक है . अक्सर  40 की उम्र पार  करने के बाद महिलाओं को फ़ैशन के मामले में काफी सोचना पड़्ता है. ऐसे में कई बार गलतियाँ होना भी स्वाभविक हो जाता है .उदाहरण के लिए सही राय के अभाव में ऐसे कपड़ों  का चयन करना जो उनकी उम्र के अनुकूल न हो .परिणामस्वरुप ऐसी गलतियाँ आपके व्यक्तित्व पर नकारात्मक व प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं. ऐसे में प्रश्न उठता है कि 40 की उम्र पार कर गईं महिलायें अपनी वार्डरोब में किस तरह के परिधानों को जगह दें जिससे वे स्टाइलिश लगने के साथ- साथ अपनी उम्र की गरिमा को भी बरकरार रख सकें. इस संदर्भ में आइये जानते है फ़ैशन टिप्स फॉर 40+  विमेन :-

– यदि आप ट्राउज़र ,शर्ट या जींस व टॉप पहन रही हैं तो थोड़ी ढीली फिटिंग वाली पहने.

– मिनी ड्रेस ,मिनी स्कर्ट बिना फिटिंग के ब्लेज़र ,लंबी स्कर्ट आदि पहनने से बचें.

– कपड़ों की फिटिंग न तो बहुत अधिक ढीली हो और न ही बहुत ज्यादा टाइट.

– अगर आपकी टांगें और शरीर के अन्य हिस्से फैटी हों तो शार्ट ड्रेस पहनने से बचें.

– आप शार्ट स्लीव ब्लाउज के साथ बॉर्डर वाली साड़ी और मैचिंग नेकलेस से अपने व्यक्तित्व में चार -चाँद लगा सकती हैं.

– लॉन्ग कोट से आप अपना स्टाइल स्टेट्मेंट बनाएं.

– 6 महीनों के अंतराल में अपने वॉर्डरोब को अपडेट रखें.

– हर मौसम का अपना एक अलग फ़ैशन व स्टाइल होता है .यह स्टाइल सिर्फ कपड़ों से ही नहीं , बल्कि मेकअप और एक्सेसरीज़ से भी मिलकर बनता है. जिस प्रकार किसी वस्तु को निखारने के लिए उसका  डेकोरेशन जरुरी होता है उसी प्रकार व्यक्तित्व को खूबसूरती प्रदान करने हेतु सही कपड़ों के साथ संतुलित आभूषणों व एक्सेसरीज़ की भी  आवश्यकता होती है.

– अगर आप अपना एक अलग स्टाइल स्टेट्मेंट बनाना चाहती हैं तो अपनी ड्रेस से मैच करते आभूषणों का भी  प्रयोग करें. सोने, चाँदी, हीरे ,प्लेटिनम आदि के अतिरिक्त अन्य कई प्रकार के आभूषण चलन में हैं जो बेहद कम दामों में आपके व्यक्तित्व को एक अलग व शानदार आयाम देंगे.

– आभूषणों के अलावा घड़ी और सनग्लास् जैसी एक्सेसरीज़ का भी उपयोग बेहतर है.

– अपनी भौंहे सदैव शेप में रखें. बेहतरीन आकार में सेट करी गईं आई ब्रोस आपके चेहरे को और अधिक प्रभावशाली बनायेंगी.

– लेस इज़ मोर के सिद्धांत पर अमल करें . ज्यादा भारी काम वाले परिधानों को दरकिनार करें.

– अपने पसंदीदा परिधानों की सही फिटिंग के लिए आप बॉडी शेपर का भी इस्तेमाल कर सकती हैं.

– इस  बात पर गौर फरमाएं कि स्टाइल का मतलब किसी  भी फैशन ट्रेंड को आँख मूंदकर अपना लेना नहीं होता . फैशन वही अपनाना चाहिये जो आपकी उम्र व शरीर के मुताबिक उचित लगे और आप फर फबे.

Fashion for Men | by Swapnil Shukla

फ़ैशन फॉर मैन 





फ़ैशन जगत आज महिलाओं तक ही सीमित नहीं अपितु पुरुष भी आज अपने लुक्स और व्यक्तित्व को लेकर काफी जागरुक हो गए हैं. इसमें कुछ गलत भी नहीं. हर कोई खुद को ट्रेंडस व लेटेस्ट फ़ैशन के अनुरुप संवारना चाहता है . परंतु गलत राय व अनुचित संयोजन, आपके लुक को  फ़ैशन डिसास्टर की श्रेणी में ला सकते हैं. अत: निम्नलिखित बातों पर अमल कर आप खुद को एक बेहतरीन व स्टाइलिश अवतार में ढाल सकते हैं.

– किसी भी आउटफिट की सही फिटिंग की अपनी महत्ता है. इसलिए यह बेहद जरुरी है कि आपके आउटफिट की फिटिंग आपकी बॉडी की नाप के अनुरुप हो.

– आपकी वॉर्डरोब ऐसी हो जिसमें सम्मिलित हर आउटफिट सिंपल व एलिगेंट हो . लेकिन किसी भी वस्तु की अति करने से बचे. उदाहरण के लिए, अपने आउटफिट के साथ तीन एक्सेसरीज़ से अधिक एक्सेसरीज़ का प्रयोग न करें. या फिर ऐसे आउटफिट्स को दरकिनार करें जिनमें तीन से अधिक रंगों का संगम हो. फ्लैशी वस्त्रों से बचें. काली स्ट्राइप्स से लैस शर्ट के साथ श्वेत रंग का ब्लेज़र , डार्क कलर की जींस , बेल्ट व शूज़ के साथ एक रिस्ट वॉच या पेंडेंट विद चेन , आपके व्यक्तित्व में चार – चाँद लगाएंगे.

– डिटेलिंग पर पैनी निगह रखें . डिटेलिंग से तात्पर्य है आपके आउटफिट के साथ स्कार्फ , पॉकेट स्क्वेयर ( Pocket Square ) या आपकी टाई नॉट .

– यदि आप फ़ैशन टीस जिनमें किसी कंपनी के लोगो का अभिकल्प बना है, धारण करते हैं तो इस बात का ध्यान दे कि कहीं आप चलते -फिरते बिल बोर्ड तो नहीं  लग रहे . इसलिए कोकाकोला शर्टस को कहें अलविदा और क्लासिक वी नेक टी शर्टस या किसी आर्टिस्टिकली डिजाइंड टी- शर्ट को दें अपनी वॉर्डरोब में स्थान.

– लेटेस्ट ट्रेंडस की दौड़ में मत भागिये बल्कि ऐसे आउटफिट्स को अपनी वॉर्डरोब में शामिल करें जो आपकी पसंद के अनुरुप हों.

– किसी भी वस्तु की खरीददारी से पूर्व खुद से यह प्रश्न करें कि क्या इस वस्तु को आप इसके ब्रांड नेम के कारण खरीद रहे हैं या आपको उस वस्तु की क्वालिटी व स्टाइल वाकई भा गया है.  खुद से प्रश्न करें कि क्या इस वस्तु को आप तब खरीदते यदि इस पर किसी निश्चित ब्रांड का लोगो न होता .

– जो आपके बेहद करीबी और विश्वसनीय लोग हैं , उनसे इस बारे में फीड्बैक अवश्य लें कि उनके अनुसार आप पर कौन सी वस्तुएं व स्टाइल अधिक फबता है या किन जीज़ों से आपको बचना चाहिये.

– अपने स्टाइल के साथ नए एक्सपेरिमेंट्स करने से गुरेज़ न करें. यह आपके व्यक्तित्व में हर समय नयापन व फ्रेशनेस को कायम रखने में मददगार सबित होगा.

– फार्मल अटायर की यदि बात करें तो सदैव उन शर्टस का  चुनाव करें जिनमें मोनोक्रोमैटिक कलर स्कीम का इस्तेमाल किया गया हो. इससे आपकी अपर बॉडी अधिक हाईलाइट होती है और आपके संपूर्ण  व्यक्तित्व की शोभा बढ़्ती है.  श्वेत, बेश् , ब्राउन, ब्लू आदि रंग पुरुषों पर अधिक फबते हैं .शर्टस पर वर्टिकल स्ट्रिप्स, चेक व अन्य पैटर्न भी आपके व्यक्तित्व में इज़ाफ़ा करते हैं.

– फार्मल अटायर में पैंट्स , डार्क या लाइट शेड्स की हो सकती हैं परंतु इनका रंग ओवरकोट के साथ मेच करता हुआ हो.  मिस मैच से बचें.  ब्लैक, ब्राउन , ग्रे और बेश जैसे सदाबहार रंगों का चुनाव कर सकते हैं.

–  स्वप्निल शुक्ला ( Swapnil Shukla )

ज्वेलरी डिज़ाइनर  ( Jewellery Designer )
फ़ैशन कंसलटेंट  ( Fashion Consultant )

**************************************************************

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s